Technologyटेक्नालॉजी

बैन टलने से हुवावे को मिली राहत

स्मार्टफोन मेकर हुआवे टेक्नॉलजीस के लिए गूगल की ओर से ऐंड्रॉयड यूज पर लगाए गए बैन को लेकर राहत भरी खबर आई है। यूएस कॉमर्स डिपार्टमेंट ने उस बैन ऑर्डर को फिलहाल कुछ समय के लिए टाल दिया है, जिसमें कहा गया था कि यूएस की कंपनियां अब चाइनीज टेक कंपनी हुआवे के साथ बिजनस नहीं कर सकतीं।

यूएस सरकार ने हुआवे को ‘Entity list’ में डाल दिया है और इसके बाद गूगल ने भी कंपनी का ऐंड्रॉयड लाइसेंस रद्द कर दिया है। अब कहा गया है कि कंपनी मौजूदा लाइसेंस के साथ अपनी सेवाओं के लिए पहले की तरह काम कर सकेगी।

रॉयटर्स की एक नई रिपोर्ट के मुताबिक, यूएस कॉमर्स डिपार्टमेंट ‘हुआवे टेक्नॉलजीस कॉर्पोरेट लिमिटेड को अमेरिका में बने सामान खरीदने की अनुमति देगा, जिससे कंपनी मौजूदा हैंडसेट्स के लिए सॉफ्टवेयर अपडेट्स और मौजूदा सेवाएं जारी रख सके।’ हालांकि, किसी नए प्रॉडक्ट के लिए कंपनी अब भी बिना लाइसेंस को मंजूरी मिले अमेरिका में बने पार्ट्स या बाकी सेवाएं नहीं खरीद सकती।

रिपोर्ट में यूएस सेक्रटरी ऑफ कॉमर्स विल्बर रॉस के हवाले से कहा गया है, ‘संक्षेप में मौजूदा लाइसेंस कंपनी के मौजूदा मोबाइल फोन यूजर्स और ब्रॉडबैंड नेटवर्क के लिए सेवाएं जारी रखने की अनुमति देता है।’ यह लाइसेंस 19 अगस्त तक मान्य होगा।

इस राहत से हुवावे को क्या फायदा होगा?
यूएस कॉमर्स डिपार्टमेंट की ओर से मिली इस राहत पर हुवावे या गूगल, दोनों की ओर से ही फिलहाल कोई टिप्पणी नहीं की गई है। नए अपडेट में हुवावे के लिए ऐंड्रॉयड लाइसेंस को 90 दिनों के लिए और मंजूरी मिल गई है और इसे फौरन सस्पेंड नहीं किया जा रहा है। ऐसे में 90 दिनों के लिए मौजूदा डिवाइसेज के लिए अपडेट और सिक्यॉरिटी रिलीज आते रहेंगे। गूगल ने पहले ही कहा है कि यूएस सरकार के आदेश के बाद भी मौजूदा हुवावे फोन्स पर गूगल प्ले और गूगल प्ले प्रोटेक्ट की सिक्यॉरिटी मिलती रहेगी। अब तक स्पष्ट नहीं है कि क्या 19 अगस्त के बाद यह लाइसेंस एक्सपायर हो जाएगा या फिर हुवावे स्मार्टफोन्स को ऐंड्रॉयड क्यू अपडेट मिलेगा या नहीं।

2019 में लॉन्च होने वाले हुवावे फोन्स का क्या होगा?

समझना जरूरी है कि नए हुवावे प्रॉडक्ट्स और खासकर नए ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन्स के लॉन्च की राह मुश्किल है क्योंकि यह राहत नए डिवाइसेज के लिए नहीं दी गई है। यह राहत केवल मौजूदा प्रॉडक्ट्स के लिए कंपनी को मिली है। कंपनी के सबब्रैंड ऑनर की Honor 20 सीरीज के फोन लॉन्च हो रहे हैं और इन्हें पहले ही लाइसेंस मिल चुके हैं, ऐसे में इनके लिए केई दिक्कत नहीं होने वाली। हालांकि, हुवावे की नई Mate 30 सीरीज और 2019 में लॉन्च को तैयार बाकी फोन्स को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है।

क्या गूगल ऐप्स हुवावे फोन्स पर काम करेंगे?

यूएस सरकार और चीन के बीच चल रही ट्रेड वॉर को देखते हुए यह मुश्किल लग रहा है। यूएस सरकार ने हुवावे को ‘Entity List’ में डाल दिया है, इसका मतलब है कि अमेरिका की कंपनियां सरकार की अनुमति के बिना हुवावे के साथ बिजनस नहीं कर सकतीं और यही वजह है कि हुवावे फोन्स के लिए ऐंड्रॉयड का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है। गूगल 90 दिनों के बीच ऐंड्ऱॉयड सिक्यॉरिटी अपडेट मौजूदा डिवाइसेज को दे सकता है। संभव है कि हुवावे के फ्यूचर फोन ऐंड्रॉयड के साथ न आएं और हुवावे अपना खुद का सॉफ्टवेयर लेकर भी आ सकता है।

क्या सभी यूजर्स पर पड़ेगा लाइसेंस बैन का असर?

एक बुरी बात इस बारे में यह है कि हुवावे केवल ओपन-सोर्स पर उपलब्ध ऐंड्रॉयड का इस्तेमाल कर सकेगा। बाकी गूगल से जुड़ी सर्विसेज जैसे- गूगल मैप्स, जीमेल, यूट्यूब शायद नए डिवाइस पर बिना लाइसेंस के काम न करें। फिलहाल, मौजूदा स्मार्टफोन्स पर गूगल प्लै स्टोर काम करता रहेगा और यूजर्स पहले की तरह ऐप्स डाउनलोड या अपडेट कर सकेंगे। यूएस बैन का असर ग्लोबली सभी हुवावे फोन यूजर्स पर होगा। बाद में बाकी स्मार्टफोन्स में भी ऐंड्रॉयड काम करना बंद कर सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button