जोधपुरदेश-विदेशराजस्थान

जोधपुर शहर ने जलियाँवाला बाग हत्याकांड के शहीदों को श्रद्धांजलि

जोधपुर.भारतीय जनता पार्टी जोधपुर शहर ने अमृतसर जलियाँवाला बाग ( Jallianwala Bagh ) हत्याकांड के शहीदों को कैंडल मार्च से श्रद्धांजलि दी। भारत के पंजाब प्रान्त के अमृतसर में स्वर्ण मन्दिर के निकट जलियाँवाला बाग हत्याकांड भारत के पंजाब प्रान्त के अमृतसर में स्वर्ण मन्दिर के निकट जलियाँवाला बाग में 13 अप्रैल 1919 (बैसाखी के दिन) हुआ था। रौलेट एक्ट का विरोध करने के लिए एक सभा हो रही थी जिसमें जनरल डायर नामक एक अँग्रेज ऑफिसर ने अकारण उस सभा में उपस्थित भीड़ पर गोलियाँ चलवा दीं जिसमें 400 से अधिक व्यक्ति मरे और 2000 से अधिक घायल हुए।

अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर कार्यालय में 484 शहीदों की सूची है, जबकि जलियांवाला बाग में कुल 388 शहीदों की सूची है। ब्रिटिश राज के अभिलेख इस घटना में 200 लोगों के घायल होने और 379 लोगों के शहीद होने की बात स्वीकार करते है जिनमें से 337 पुरुष, 41 नाबालिग लड़के और एक 6-सप्ताह का बच्चा था। अनाधिकारिक आँकड़ों के अनुसार 1000 से अधिक लोग मारे गए और 2000 से अधिक घायल हुए। इन सब शहीदों को भारतीय जनता पार्टी जोधपुर शहर जिले की ओर से महामंत्री पवन आसोपा के नेतृत्व में श्रद्धांजलि दी गई जिसमें जिला मंत्री आरिफ नागौरी युवा मोर्चा जिला महामंत्री जसवंत कुमावत अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष रफीक लोहार समा बहन और पूरी टीम ने कैंडल मार्च से श्रद्धांजलि दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button