Breaking Newsजोधपुर

केंद्रीय कारागृह में महिला बंदियों के साथ मनाया आजादी का जश्न

केंद्रीय कारागृह में  15 अगस्त के पर्व को उत्साह पूर्वक मनाया

जोधपुर। जो भरा नहीं है भावों से जिसमें बहती रसधार नहीं, वह हृदय नहीं पत्थर है जिसमें स्वदेश के लिए प्यार नहीं। इसी बात को सार्थक करने की दिशा में 15 अगस्त को केंद्रीय कारागृह में रहने वाली महिला बंदियों ने अपने हाथों से तिरंगे बनाकर 15 अगस्त के पर्व को उत्साह पूर्वक मनाया और देश प्रेम का संदेश दिया।

केंद्रीय कारागृह में कैदियों के पुनर्वास के लिए कार्य कर रही डॉ बिंदु और क्रिमिनोलॉजिस्ट डॉ मनीष सिंह भाटी ने कैदियों के मन में देश प्रेम को जगाने के लिए एक अनूठा प्रयास किया है। डॉ बिंदु टाक ने बताया कि 15 अगस्त के लिए कागज से तिरंगे, तीनों रंग के रिबन से बैज आदि बनाने के प्रशिक्षण कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया था, जिसमें आर्ट एंड क्राफ्ट एक्सपर्ट रितु वर्मा ने प्रशिक्षण दिया था।

डॉ भाटी ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान कैदियों में उत्साह देखा गया और उनसे बात करने पर पाया गया कि उनका दिमाग आर्ट एंड क्राफ्ट की गतिविधि करते वक्त एकाग्र हुआ है और मानसिक शांति भी मिली है। इस अवसर पर जोधपुर केंद्रीय कारागृह के अधीक्षक राजपाल सिंह, उप अधीक्षक सौरभ स्वामी, जेलर शकुंतला, अमित टाक, रेनू चौहान एवं जेल कर्मचारी आदि मौजूद थे। https://sancharsarthi.com

केंद्रीय कारागृह केंद्रीय कारागृह

 

Related Articles

Back to top button