मनोरंजन

बर्थडे राकेश रोशन: ‘K’ अक्षर का दीवाना है ये ‘गुड्डू’, जानिये कुछ रोचक बातें

मुंबई। 6 सितंबर को अभिनेता और फ़िल्मकार राकेश रोशन का बर्थडे होता है। राकेश रोशन को बॉलीवुड में अंग्रेज़ी अक्षर ‘के’ से शुरू होने वाली फ़िल्मों को निर्देशित करने के लिए जाना जाता है। उन्हें जितनी उपलब्धियां निर्देशक के रूप में मिली, उतनी अभिनेता के तौर पर शायद नहीं मिली। बॉलीवुड अभिनेता, निर्माता और निर्देशक राकेश रोशन आज 69 साल के हो गए हैं। आइये इस मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ रोचक बातें!

6 सितंबर 1949 को मुंबई शहर में पैदा हुए राकेश रोशन मशहूर संगीतकार रोशन के बेटे हैं। राकेश रोशन के भाई राजेश रोशन भी एक जाने-माने संगीतकार हैं। राकेश रोशन का निक नेम गुड्डू है। चिंटू (ऋषि कपूर) और जीतू (जीतेंद्र) उनके बेस्ट फ्रेंड्स हैं। गुड्डू, चिंटू और जीतू की दोस्ती एक मिसाल रही है। साल 2000 में राकेश रोशन पर एक बार जानलेवा हमला भी हो चुका है, जिसमें वो बाल-बाल बच गए थे। उनकी बेटी सुनैना ने उन पर एक किताब भी लिखी है।

 

बहरहाल, राकेश रोशन ने अपने करियर की शुरुआत बतौर अभिनेता साल 1970 में फ़िल्म ‘घर घर की कहानी’ से की थी। इस फ़िल्म में वह सपोर्टिंग किरदार में नजर आए थे। उन्होंने बतौर अभिनेता बहुत ही कम फ़िल्मों में काम किया है। जब उनका करियर एक एक्टर के रूप में कुछ ख़ास नहीं रहा तो उन्होंने साल 1980 में एक प्रोडक्शन कंपनी खोल ली। राकेश रोशन ने अपने प्रोडक्शन में 1980 में ‘आप के दीवाने’ बनाई। हालांकि, फ़िल्म टिकट खिड़की पर बुरी तरह पिट गयी थी। उसके बाद उन्होंने ‘कामचोर’ बनाई जोकि एक सफल फ़िल्म साबित हुई।

प्रोडक्शन के बाद वे निर्देशन में आ गए और उन्होंने अपने निर्देशन में पहली फ़िल्म ‘ख़ुदगर्ज़’ बनायी, जो बॉक्स-ऑफिस पर एक औसत फ़िल्म रही। ‘ख़ुदगर्ज़’ के आलावा उन्होंने बतौर निर्देशक ‘किशन कन्हैया’, ‘करण-अर्जुन’ जैसी फ़िल्में बनाई जो बॉक्स-ऑफिस पर सुपर-हिट साबित हुई। यहां से ‘के’ शब्द उनके लिए ख़ास बन गया। ‘ख़ुदगर्ज़’, ‘खून भरी मांग’, ‘काला बाज़ार’, ‘किशन कन्हैया’, ‘खेल’, ‘किंग अंकल’, ‘करण अर्जुन’, ‘कोयला’, ‘कहो ना प्यार है’, ‘कारोबार’, ‘कोई मिल गया’ ‘कृष’, ‘कृष 3’ यह सभी फ़िल्में अंग्रेज़ी के ‘के’ (K) शब्द से शुरू होती हैं!

साल 2000 में राकेश रोशन ने अपने बेटे रितिक को लांच करने के लिए ‘कहो ना प्यार है’ बनायी। यह फ़िल्म एक सुपरहिट साबित हुई। इस फ़िल्म ने उस साल न सिर्फ़ सबसे ज्यादा कमाई की बल्कि इस फ़िल्म ने कई सारे अवार्ड भी अपने नाम किये। ‘कहो ना प्यार है’ के लिए उन्हें बेस्ट फ़िल्म और बेस्ट डायरेक्टर दोनों का फ़िल्मफेयर अवार्ड मिला। साल 2004 में ‘कोई मिल गया’ के लिए उन्हें एक बार फिर बेस्ट फ़िल्म और बेस्ट डायरेक्टर दोनों का फ़िल्मफेयर अवार्ड मिला साथ ही इस फ़िल्म के लिए उन्होंने नेशनल अवार्ड भी जीता।

बेटे रितिक के साथ राकेश रोशन का रिश्ता बेहद स्पेशल रहा है और ये पिता-पुत्र की जोड़ी दोस्तों की तरह रहते हैं। रितिक इन दिनों अपनी फ़िल्म ‘सुपर 30’ के लिए चर्चा में हैं जबकि राकेश रोशन इन दिनों ‘कृष 4’ पर काम कर रहे हैं, यह फ़िल्म संभवतः 2020 में रिलीज़ होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button